कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन ने की 3 दिनों में १००० महिलाओं की निशुल्क स्तन जांच

0
50
Can Protect Foundation

देहरादून: अति सराहनीय कार्य करते हुए देहरादून की कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन ने पिछले ३ दिनों में १००० से अधिक महिलाओं की स्तन जांच करके नया कृतिमान स्थापित किया .

Can Protect Foundation

आपको बता दे कि Can Protect Foundation पिछले ३ वर्षो से उत्तराखंड एवं उत्तर प्रदेश में स्तन और सर्वाइकल कैंसर की रोकथाम के लिए निशुल्क जांच शिविर का आयोजन कर रही है और अब तक १०,००० से अधिक महिलाओं की निशुल्क जांच कर चुकी है. सराहनीय बात यह भी है इस संस्था को अभी तक किसी भी सरकारी संस्थान से किसी भी प्रकार की वितीय सहायता उपलब्ध नहीं हैं .

देहरादून में गाँधी रोड स्थित अग्रवाल धर्मशाला में आज ३ दिवसीय स्तन जांच दिवस के तीसरे और अंतिम दिन कार्यक्रम के मुख्य अथिति विधायक हरबंस कपूर ने कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन की सराहना करते हुए कहा की संस्था बहुत ही  अच्छा कार्य कर रही है उन्होंने बताया की स्तन कैंसर महिलाओं में पाया जाने वाला कैंसर है जिसकी समय पर जांच के द्वारा रोका जा सकता है.

 

इस अवसर पर मसूरी से विधायक गणेश जोशी ने भी बतौर विशिष्ट अतिथि कार्यक्रम में भाग लिया, उन्होंने कहा की संस्था द्वारा अलग अलग जगह पर कैंप आयोजित किया जाना और लोगो को जागरूक करना यह अति सराहनीय कार्य है.

कार्यक्रम में पहले दिन मुख्य अतिथि देहरादून के मेयर एवं विधायक विनोद चमोली थे जिन्होंने कार्यक्रम का शुभारम्भ कर अपने क्षेत्र के सभी लोगो से इस निशुल्क स्तन जाँच शिविर में भाग लेने की अपील की थी.

निशुल्क जाँच शिविर के दुसरे दिन मुख्य अतिथि के रूप में महिला कल्याण एवं बाल विकास मंत्री उत्तराखंड सरकार, रेखा आर्य ने भाग लिया, संस्था द्वारा किये गए कार्यो की सराहना करते हुए उन्होंने सभी महिलाओं से अपील करते हुए कहा कि सभी को अपने स्वस्थ्य के प्रति सजग रहना चाहिए.

निशुल्क जाँच शिविर के दुसरे दिन उत्तराखंड के पुलिस महानिदेशक अनिल रतूड़ी एवं राधा रतूड़ी, प्रमुख सचिव महिला कल्याण एवं बाल विकास विशिस्ट अतिथि रहे. दोनों ने ही संस्था द्वारा किये गए कार्यो की सराहना की. एवं ३ दिवसीय निशुल्क स्तन कैंसर जाँच के लिए डॉ सुमिता प्रभाकर को शुभकामनाये भी दी.

कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन की अध्यक्ष डॉ सुमिता प्रभाकर ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि पिछले 3 दिनों में १००० महिलाओं की जाँच की जा चुकी है और अक्टूबर माह में करीब 2500 महिलाओं की जांच की जा चुकी है, डॉ सुमिता प्रभाकर ने बताया की कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन का लक्ष्य २०२० तक उत्तराखंड की हर महिला की जांच करना है ताकि स्तन कैंसर जैसी भयानक और जानलेवा बिमारी से बचा जा सके.

इस अवसर पर संस्था के सचिव प्रवीण डंग ने भी सभी से अपील की वह अधिक से अधिक महिलाओं को स्तन कैंसर के प्रति जागरूक करे और संस्था की और से लगाये जा रहे निशुल्क स्तन जांच शिविरों की जानकारी साझा करे जिससे अधिक से अधिक महिलाओं को कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन का लाभ मिल सके.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here